क्रिएटिन सप्लीमेंट कैसे बनाया जाता है

क्रिएटिन सप्लीमेंट कैसे बनाया जाता है

इस से पहले हमने एक आर्टिकल लिखा था जिसमें कि हमने लगभग क्रिएटिन के बारे में सब कुछ बता दिया था। लेकिन इस आर्टिकल में हम आपको स्पेशल यह बताने जा रहे हैं कि क्रिएटिन सप्लीमेंट कैसे बनाया जाता है। जैसा की हमने उस में आपको 4 स्टेज बताई थी कि क्रिएटिन सप्लीमेंट को बनाने के लिए कौन कौन से स्टेट से गुजरना पड़ता है।

प्रोटीन सप्लीमेंट का सभी को पता है कि यह कैसे बनाया जाता है इसके लिए भी हमने एक आर्टिकल लिखा था आप वह भी आप चेक कर सकते हैं आपको हमारी वेबसाइट पर मिल जाएगा। क्रिएटिन सप्लीमेंट बनाने के लिए इस में दो तरह के केमिकल का यूज किया जाता है जिसमें कि एक Sarcosine जिसको हम साल्ट कहते हैं। दूसरा इसमें cyanamide यूज किया जाता है। तो चलिए अब आपको एक एक करके इसके प्रोसेस के बारे में बताते हैं।

क्रिएटिन सप्लीमेंट बनाने की प्रोसेस

  • सबसे पहले सिंथेटिक्स क्रिएटिन बनाने के लिए Sarcosine और cyanamide को Catalyst compound के साथ एक रिएक्टर में मिलाया जाता है। उसके बाद रिएक्टर को गर्म किया जाता है और उसको pressurized किया जाता है जिससे कि क्रिएटिन एक क्रिस्टल form में तैयार हो जाता है।
  • उसके बाद क्रिस्टल क्रिएटिन को साफ करने के लिए centrifuge में डाला जाता है। यह एक दूध से फैट निकालने जैसी मशीन होती है। इसका इसके इस्तेमाल क्रिएटिन से पानी हटाने के लिए किया जाता है लेकिन इस प्रोसैस के बाद भी क्रिएटिन में पानी की मात्रा होती है।
  • उसके बाद उसको ड्राई करने के लिए वैक्यूम ड्राइर यूज़ किए जाते हैं। वैक्युम ड्राइर में क्रिएटिन को ज्यादा तापमान पर गर्म किया जाता है जिससे इसमे मोजूद ज्यादा से ज्यादा पानी को हटाया जा सके।
  • इस के बाद क्रिएटिन कंपाउंड को ग्राइंडिंग के लिए भेज दिया जाता है। जिससे कि उसके बायो एबिलिटी को इंप्रूव किया जा सके। मिलिंग में अलग-अलग टेकनिक इस्तेमाल की जाती है। जिससे कि उसको पानी में ज्यादा से ज्यादा घुलनशील बनाया जा सके। जितना क्रिएटिनिन के कंपाउंड का साइज़ कम होगा वह उतना ही ज्यादा घुलनशील होगा और वह खून में ज्यादा जल्दी absorb हो जाएगा। जो कि आपको जल्दी एनर्जी देने में मदद करेगा। Micronized creatine के दानों का साइज 0.36 से लेकर  9.08 माइक्रोमीटर होता है।
  • इसके बाद क्रिएटिन सप्लीमेंट को पैकिंग के लिए भेज दिया जाता है। जहां पर अलग-अलग पैकिंग करके इसको मार्केट में बेचा जाता है।

तो यह छोटी सी जानकारी थी कि क्रिएटिन सप्लीमेंट कैसे बनाया जाता है और इसको कौन-कौन सी प्रोसेस से गुजरना पड़ता है। तो अगर आपका इसके बारे में कुछ और सवाल है तो आप नीचे हमारे कमेंट बॉक्स में लिख सकते हैं या हमारे फेसबुक पेज पर आप इनबॉक्स में मैसेज कर सकते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.